एमपी में दुष्कर्म के आरोपी महंत से करवाई गई नंगे पाव परेड, पुश्तैनी घर पर चल गया बुलडोजर

 

एमपी में हुआ नाबालिग के साथ हुआ रेप। रेप के आरोपी का नाम महत्त्व सीताराम बताया जा रहा है। महंत सीताराम के पुश्तैनी घर पर पुलिस ने बुलडोजर चलवा दिया । पुलिस ने महंत सीताराम को थाने से कोर्ट पैदल चलाकर लेकर ही गए, और उसने पैरों में ना ही जूते पहनने थी और ना ही चप्पल पहने थे। एमपी में रीवा के राज में नाबालिग लड़की के साथ हुए गैंगरेप के मुख्य आरोपी महंत सीताराम का पुलिस ने दिमाग ठिकाने लगा दिया। रसूखदार महानता को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। और उसके पुश्तैनी मकान पर बुलडोजर चलवा दिया। और पुलिस ने सिविल लाइन से लेकर जिला न्यायालय तक मार्च निकाला।

एमपी में दिखा बुल्डोजर का कमाल

पुलिस सभी दोषियों के संपत्ति की खोज में लगी हुई हैl यूपी के बाद एमपी में दिखा बुल्डोजर का कमाल। राज निवास में हुए गैंगरेप से खफा एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बुलडोजर महंत सीताराम के पुश्तैनी आवाज तक पहुंच गया। मुख्यमंत्री के फरमान को प्रशासन एक्शन में लेने लगी है और प्रशासन ने सीताराम के गांव गुड़वा में बने पक्के भवन पर भी प्रशासन ने बुलडोजर चलावा दिया। नाबालिंग से राज निवास मे 28 मार्च को गैंग रेप करने के बाद महंत भागकर इसी भवन में छुपा था और सुबह होते होते वह सिंगरौली पहुंच गया था।

30 मार्च को पुलिस ने उसे बस स्टैंड में गिरफ्तार कर लिया। और 31 मार्च को सीताराम का जिला अस्पताल में जांच करवाया गया। पुलिस सीताराम को जेल भेजने से पहले कोर्ट में पेश करने के लिए ले गए थे। पुलिस की वैन खराब हो जाने के कारण सीताराम को पैदल ही कोट जाना पड़ा। तपती धूप में पुलिस ने सीताराम को पैदल ही कोट लेकर गए सीताराम के चेहरे पर नकाब था और पैरों में ना चप्पल थे और ना ही जूते थे। मुख्य आरोपी सीताराम के साथ हिस्ट्री सीटर विनोद पांडे अभी था। पुलिस ने दोनों आरोपियों को सुरक्षा पहरा देते हुए कोट पहुंचाया।

कोर्ट के बाहर लोगों ने लगाया  मुर्दाबाद का नारा

कोर्ट के बाहर पहुंचने के बाद लोगों ने मुर्दाबाद का नारा लगाना शुरू किया। इसके बाद उन्हें कोर्ट के अंदर ले जाया गया और जज के सामने पेश किया गया। पुलिस ने जज से 2 दिन का समय मांगा ताकि वे आगे की कार्यवाही कर सकें। उन्होंने अलग अलग तरीके से करवा ही करना शुरू कर दिया। करवा ही करते हुए उन्हें पता चला कि जो दूसरा आरोपी विनोद पांडे है उस पर पहले से ही दूसरे थानों में 35 से अधिक केस चल रहे हैं।

Leave a Comment