मार्कण्डेय पुराण में बताया गया है नर्क भोग कर आये हुए लोगों की पहचान,आप भी जानिए यह संकेत

दोस्तों यह तो हम सभी जानते हैं कि मृत्यु के बाद मनुष्य को उसके किए गए कर्मों के अनुसार नरक या स्वर्ग में वास मिलता है। यह पूर्णता उस मनुष्य के कर्मों पर आधारित होता है। एवं उसके पाप और पुण्य पर आधारित होता है कि उसे नर्क मिलेगा या स्वर्ग मिलेगा। लेकिन मार्कण्डेय पुराण ऐसा पुराण है जिसमें नर्क में रह चुके आत्मा के लक्षण बतलाया गया है। इसके अनुसार किसी व्यक्ति के आदत से आप यह पता लगा सकते हैं कि उसकी आत्मा पहले नर्क में वास करके आ रही है । आइए जानते हैं कौन है यह संकेत जिससे आप यह पता लगा सकते हैं कि कोई मनुष्य की आत्मा नरक वास करके आई है।

1- दूसरों की निंदा करने वाला

निंदा रस से बच कर रहें | Webdunia Hindi

कई बार आपने देखा होगा कि बहुत अच्छे लोगों में भी कई लोग बुराई निकालते हैं । ऐसे लोगों की आदत होती है हर काम में कुछ ना कुछ कमी एवं बुराई निकालने की। ऐसे लोगों को दूसरों की बुराई करने में ही सुख मिलता है ।यह संकेत होता है कि जन्म से पहले उस व्यक्ति की आत्मा नर्क में वास कर के आई है। इसीलिए कहा जाता है कि मनुष्य को पर निंदा नहीं करनी चाहिए,।

2- उपकार को न मानने वाला

Sprituality Daan And Dharm - गरीब हो या अमीर दान से जुड़ी यह बातें हर किसी  को जानना चाहिए - Amar Ujala Hindi News Live

कुछ व्यक्ति ऐसे होते हैं जिनके ऊपर आप लाख उपकार कर दीजिए पर वह हसन नही मानते हैं। कई लोग एहसान फरामोश होते हैं, उन्हें आपके द्वारा किया गया उपकार याद नहीं रहता । जो लोग आपके द्वारा की गई सहायता की कदर नहीं करते हैं ऐसे लोग जन्म से पहले नरक का निवास करके आए होते हैं। इसीलिए हमेशा उन व्यक्तियों का सम्मान करना चाहिए जिन्होंने आप के साथ उपकार किया है ।

3- दूसरों का अधिकार मारने वाला

मार्कण्डेय पुराण में यह बतलाया गया है की जो व्यक्ति दूसरे का अधिकार मारता है । जो दूसरों की चीजों पर कब्जा करता है वह व्यक्ति जन्म से पहले नरक का वासी रह चुका होता है ।

4- पर पुरुष या स्त्री का सेवन करने वाला

Jharkhand: Wives Got Cheated In Marriage And Made A Deal Divided Husband  For Three Days - झारखंड: शादी में मिला धोखा तो पत्नियों ने की डील, तीन-तीन  दिनों के लिए किया पति

जो स्त्री या पुरुष अपने पति एवं पत्नी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति से रिश्ता बनाते हैं वह मनुष्य जन्म से पहले नरक में रह चुके होते हैं। इसीलिए कहा जाता है कि किसी अन्य की स्त्री या पुरुष पर नजर नहीं रखनी चाहिए ।

5-देवताओं की निंदा करने वाला

33 करोड़ या 33 कोटि देवी-देवता, क्या आप सुलझा पाएं हैं इस गुत्थी को? -  hindu dharam interesting fact must know

जो व्यक्ति भगवान का आदर नहीं करता देवताओं की निंदा करता है उन्हें अपशब्द कहता है। वह मनुष्य चाहे किसी भी धर्म को मानने वाला हो लेकिन यह इस बात का संकेत है कि वह जन्म से पहले नरकवास कर चुका है।

6- हत्या करने वाला

People Protest After businessman Shot Dead In Sambhal - Sambhal: व्यापारी  की गोली मारकर हत्या, गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर पुलिस को दिया 24 घंटे का  अल्टीमेटम | Patrika News

मार्कंडेय पुराण के अनुसार बताया गया है कि मनुष्य की हत्या करने वाला व्यक्ति जन्म से पहले नरक भोगी रह चुका होता है । इसीलिए किसी भी मामले समस्या को शांति से सुलझाने की कोशिश करनी चाहिए।

7- छल करने वाला व्यक्ति

जो व्यक्ति छल कपट करता है या फिर किसी के ऊपर काला जादू टोना करता है। यह इस बात का स्पष्ट संकेत है कि वह व्यक्ति जन्म से पहले नरक में रह चुका है। अपने पूर्व जन्म के कर्मों के अनुसार ही वर्तमान में मिले हुए जन्म में भी गलत संगत में ही पड़ते हैं।

8- दूसरों के भेद खोलने वाला व्यक्ति

अपने कई बार सुना होगा कि किसी की बातें, किसी की निजता को सभी के सामने नहीं खोलना चाहिए। मार्कंडेय पुराण में बताया गया है कि जो व्यक्ति किसी दूसरे की निजी बातों को सभी के सामने खुलता है वह व्यक्ति जन्म से पहले नर्क का वासी रह चुका होता है। और उसके बाद वह जन्म लेकर के पृथ्वी पर आया होता है।

9- निर्दयता करने वाला

7,908 Cruel Man Photos - Free & Royalty-Free Stock Photos from Dreamstime

मार्कंडेय पुराण के अनुसार यह बतलाया गया है कि अगर किसी मनुष्य में दया का भाव नहीं है संवेदनशीलता नहीं है। तो यह इस बात का संकेत है कि वह व्यक्ति नरक का वास करके आया है। जो व्यक्ति वन जीव एवं किसी भी अन्य जीव के प्रति दया की भावना नहीं रखता है, वह जन्म से पहले नरक वासी रहा होता है।

Leave a Comment