दो वक्त की रोटी के लिए तरसता था परिवार, उसी परिवार की बेटी बनी पुलिस अधिकारी

आपने ऐसे कई किस्से सुने होंगे, जिसमें लोग कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी लो अपने लक्ष्य को नहीं छोड़ते। जिन्हें कठिन परिस्थितियों में भी अपने लक्ष्य को पाना होता है उनके लिए आराम नाम की चीज नहीं होती है।

आज हम आपको जो लड़की के बारे में बताने वाले हैं उस लड़की का जुनून भी कुछ ऐसा ही था। आप सोच ही सकते हैं कि किसी परिवार में सुबह की रोटी के बाद शाम की रोटी की कोई आशा ना हो उस परिवार की लड़की कैसे कोई लक्ष्य को हासिल कर सकती है।

tejal

इस लड़की का नाम तेजल आहेर है, जो महाराष्ट्र के नासिक जिले में रहती है। तेजल की सब््वसे बड़ी कामयाबी यह है कि उसने महाराष्ट्र सरकार की तरफ से आयोजित की जाने वाली लोक सेवा आयोग की परीक्षा में बहुत ही ज्यादा सफल पूर्वक पास कर लिया है ।

लेकिन आपके मन में यह सवाल उत्पन्न हो रहा होगा कि इसमें कौन सी बड़ी बात है हर साल इस परीक्षा में कई लोग सफलतापूर्वक पास हो जाते हैं|

Competitive Exams | St. Xavier's College Mahuadanr

तेजल बताती है कि उन्होंने सुना था कि इस परीक्षा को पास करने के लिए सभी लोग कोचिंग ज्वाइन करते हैं लेकिन घर में पैसे नहीं होने की वजह से उसे कोचिंग ज्वाइन करने नहीं मिला।

tejal

लेकिन तेजल ने इस बात की परवाह बिल्कुल भी नहीं की और मन लगाकर पढ़ने लगी उसके इतने मेहनत एवं लगन की वजह से ही वह आज इतने बड़े परीक्षा को बिना कोचिंग गए इतने अच्छे रैंक से पास कर चुकी है और आज इतनी बड़ी अफसर बन चुकी है। तेजल कि पिता बताते हैं कि तेजल की मां हमेशा से कहा करती थी कि वह अपनी बिटिया अफसर बनाना चाहती है।

परीक्षा में अच्छे अंक से पास होने के बाद तेजल अपनी ट्रेनिंग के लिए दूर चली गई। ट्रेनिंग करते-करते 15 महीने बीत गए उसके बाद जब वह घर लौटी तब उसके कंधे पर पुलिस के स्टार एवं उसके शरीर पर पुलिस की वर्दी देखकर उनके माता-पिता बहुत ही ज्यादा खुश हो गए और वह आज भी कहते हैं कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है।

Leave a Comment