घर के बन ने में हो रही थी समस्या, लेकिन नहीं काटा आम का पेड़, उसी पर बना दिया खूबसूरत आशियाना

दुनिया भर में कई ऐसे लोग हैं जो केवल अपना मकान बनाने के लिए जमीन के आसपास के सभी पेड़ों को काट देते हैं लेकिन हाल ही में मकान और पेड़ से जोड़ी एक ऐसी घटना सामने आई है जिसने पेड़ों को बचाने के लिए लोगों को काफी प्रोत्साहित किया है। साल 2000 में कुल प्रदीप सिंह द्वारा बनाए गए एक घर की चर्चा आज भी होती है। उदयपुर के रहने वाले कुल प्रदीप सिंह ने 80 साल पुराने आम के पेड़ के पास 4 मंजिला घर बनाया था जिसे देखकर लोग काफी आकर्षित होते हैं। इस घर को बने हुए करीब 20 साल हो गए हैं लेकिन आज भी इसकी चर्चा लोगों के बीच होती रहती है।

घर बनाने के लिए नहीं काटा आम का पेड़, उसी पर बनाया खूबसूरत आशियाना | Sanmarg

आपको बता दें कि कुल प्रदीप सिंह ने उस पेड़ को ध्यान में रखते हुए घर डिजाइन किया था ताकि पेड़ की किसी भी टहनी को काटा ना जाए। उन्होंने अपने घर में उस आम के पेड़ की टहनियों को टीवी के स्टैंड, सोफे और दूसरी चीजों की तरह इस्तेमाल किया है।

राजस्थानी शख्स ने 88 साल पुराने पेड़ पर बनाया 4 मंजिला हाईटेक घर, अंदर की  तस्वीरें देख कहेंगे गजब कमाल | rajasthan World Environment Day special  story engineer kp singh ...

उनके घर में इस पेड़ की वजह से कोई दिक्कत नहीं होती है बल्कि इस घर में सभी सुविधाओं के साथ पेड़ के फल भी मिलते हैं और घर के अंदर मौजूद यह पेड़ पंछियों का भी आशियाना है।

राजस्थानी शख्स ने 88 साल पुराने पेड़ पर बनाया 4 मंजिला हाईटेक घर, अंदर की  तस्वीरें देख कहेंगे गजब कमाल | rajasthan World Environment Day special  story engineer kp singh ...

केपी सिंह ने 1999 में उदयपुर में एक जमीन खरीदी जिसके आसपास काफी पेड़ पौधे मौजूद थे लेकिन बिना पेड़ काटे उन्होंने 40 फीट ऊंचाई का 4 मंजिला घर बनाया जिसके अंदर जाने के लिए सीढियां मौजूद है। आपको बता दें कि जमीन से 9 फीट ऊपर उठकर इस घर का निर्माण हुआ है। इस घर को बनाने में सीमेंट की जगह फाइबर शीट और स्टील स्ट्रक्चर सेल्यूलर का इस्तेमाल किया गया है और तेज हवाओं के साथ यह घर झूले की तरह झूलने लगता है। लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी के पी सिंह के इस घर का नाम दर्ज किया गया है।

Leave a Comment