खाने को नही है रोटी, इनकम टैक्स ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन

 

ऐसा हो सकता है कि किसी के पास करोड़ों रुपयों की संपत्ति होने के बावजूद वह एक एक रोटी के लिए तरसे। यह सुनने में तो असंभव ही लगता है लेकिन ऐसा कुछ हो रहा है राजस्थान की एक महिला संजू देवी के साथ। तो चलिए हम बताते हैं कि संजू देवी करोड़ों की मालकिन होने के बाद भी कैसे पाई पाई के लिए तरसती है।

 

खाने को रोटी नहीं, इनकम टैक्स ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन -  rajasthan jaipur tribe poverty rich land scam income tax raid - AajTak

संजू देवी राजस्थान के सीकर जिले के दीपावास गांव की रहने वाली है जिनके पिता का निधन 12 वर्ष पहले ही हो गया था। उसके बाद उसके पति की भी मृत्यु हो गई जिसके कारण उनके घर में कठिनाइयों का पहाड़ टूट पड़ा। बड़ी कष्ट सेवा अपने परिवार का पालन पोषण करती है।

खाने को रोटी नहीं, इनकम टैक्स ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन :  अद्भुत इंडिया

उनके दो बच्चे हैं जिन के पालन पोषण के लिए वह मजदूरी और खेती का काम करती हैं। इसके साथ ही वह जानवर को भी पालती है। इसी हाल में एक खुलासे ने संजू देवी के होश उड़ा दिए जो कि आयकर विभाग द्वारा किए गए।

यूपी के मंदिर के खजाने में करोड़ों का गबन,खजाना सील > News85.in

जयपुर इनकम टैक्स विभाग ने जयपुर दिल्ली के हाईवे में पड़ने वाले गांव के एक जमीन की जांच की। वह जमीन 64 बीघा की है जिसकी कीमत एक सौ करोड़ के करीब है। जब पता किया गया तो यह जानकारी सामने आई कि इस जमीन का मालिक और कोई नहीं बल्कि एक आदिवासी महिला , संजू देवी ही है।

खाने को रोटी नहीं, इनकम टैक्स ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन -  ताजा खबरें - Income tax raida tribe lady on land scam 100 crore land  recovered - Taza Khabare

यह मामला उस वक्त सामने आया जब यह फरियाद आयकर विभाग के सामने आई कि कुछ उद्योगपति दिल्ली जयपुर हाईवे के जमीन को गरीब आदिवासियों के नाम पर फर्जी तौर पर खरीद रहे हैं। एक जमीन की जांच पड़ताल करने पर पता चला कि वह जमीन संजू देवी मीणा के नाम पर है जो कि 64 बीघा जमीन है। एक साधारण महिला है जो कि मजदूरी करती है तथा उससे इसके संबंध में कोई जानकारी नहीं हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि पति की मृत्यु के बाद हर महीने कहीं से 5000 आते थे पर वह अब बंद हो गए।

Leave a Comment